आवास ॠण योजना

 

उद्देश्‍य

मकान निर्माण/अधिग्रहण/खरीदने/विस्‍तार करने/मरम्‍मत करने/नवीकरण करने हेतु

पात्रता

व्‍यक्ति, व्‍यक्तियों का समूह एवं हाउसिंग सोसायटी का प्रत्‍येक सदस्‍य इस योजना के अंतर्गत पात्र है। 

आयु

18 वर्ष से 65 वर्ष, भुगतान हेतु आयु के आधार पर

वित्‍त की मात्रा

i) मकान निर्माणया मकान/फ्लैट/प्लॉट की खरीद हेतु : जरूरत के आधार पर वित्त ,कोई अधिकतम सीमा नहीं

ii) मरम्मत / नवीकरण / परिवर्धन / परिवर्तन के लिए: अधिकतम रु.20.00 लाख।

मार्जिन

i) केवल प्लॉट की खरीद के लिए, सरकारी प्राधिकारियों और/या बिल्डर्स द्वारा आबंटित/प्रस्‍तुत, जो बैंक के उधारकर्ता हों:

क) रु.100लाख तक के अग्रिम तक प्‍लॉट की लागत का 25% ।

ख) रु.100लाख तक और उससे अधिक के अग्रिम तक प्‍लॉट की लागत का40%

ii) निर्माण के लिए या प्लॉट की खरीद और निर्माण के लिए :
क) प्लॉट की खरीद के लिए: भूमि/प्लॉट की लागत का 40%
ख) निर्माण के लिए:

  • आनुपातिक ऋण रु.20 लाख तक निर्माणमूल्य का 10%
  • आनुपातिक ऋण रु.20 लाख से अधिक रु.75 लाख तक निर्माणमूल्य का 20%

आनुपातिक ऋण रु.75 लाख से अधिक निर्माणमूल्य का 25%

( ऋण राशि. मार्जिन सुनिश्चित करने के लिए भूखंड +निर्माण  के लिए यानी दोनों ऋणों को क्लब करने के बाद किया जाएगा)

iii) निर्मित आवास इकाई की खरीद के लिए : 

  • रु.20 लाख तक के ऋण के लिए संपत्ति के कुलमूल्य का 10%
  • रु.20 लाख से अधिक रु.75 लाख तक के ऋण के लिए संपत्ति के कुलमूल्य का 20%
  • रु.75 लाख से अधिक के ऋण के लिए संपत्ति के कुलमूल्य का 25%

iv)विस्‍तार/नवीकरण/मरम्मत के लिए:

  • आनुपातिक ऋण रु.20 लाख तक संपत्ति के कुल मूल्‍य का 10%

v)सोसायटी/बिल्डर से फ्लैट की खरीद के लिए :

  • आनुपातिक ऋण रु.20 लाख तक संपत्ति के कुलमूल्य का 10%
  • आनुपातिक ऋण रु.20 लाख से अधिक रु.75 लाख तक संपत्ति के कुलमूल्य का 20%
  • आनुपातिक ऋण रु.75 लाख से अधिक संपत्ति के कुलमूल्य का 25%

ब्याजदर

ब्याज दर हेतु कृपया यहां क्लिक करें

प्रोसेसिंग फीस

(एक बार)

प्रोसेसिंग फीस के लिए यहां क्लिक करें 

दस्‍तावेजी प्रभार

केवल वास्तविक स्टाम्प/राजस्व व्यय

प्रतिभूति

 i)ऋण की सुरक्षा में संपत्ति का न्यायसंगत/पंजीकृत बंधक हो। संपत्ति का टाईटल स्पष्ट,विपणन योग्‍य और ॠणरहित हो।
ii) यदि एक इच्छुक उधारकर्ता जिसने आवासीय संपत्ति खरीद ली हो/ पॉवर ऑफ एटार्नी आधार पर संपत्ति खरीदने के लिए समझौता किया हो या किसी अन्‍य संपत्ति की और / या सरकारी प्रतिभूति की साम्यिक बंधक की पर्याप्‍त संपाश्‍िर्वक प्रतिभूति दी हो, इस पर विचार किया जाएगा और स्‍वीकृति के समय प्राप्‍त संपत्ति/ प्रतिभूति को वित्‍तपोषित आवासीय संपत्ति के साम्यिक बंधक, जो कि ॠण की प्राथमिक प्रतिभूति होगी, प्राप्‍त होने के बाद ही रिलीज किया जायेगा। बैंक द्वारा वित्तपोषित संपत्ति बीच की अवधि के दौरान बैंक के चार्ज में ही रहेगी।

प्रकार और ऋण की अवधि

क) वेतनभोगी वर्ग के लिए
(पैंशनरहित)
ॠण 60 वर्ष की आयु तक
समायोजित किया जाना चाहिए
ख)वेतनभोगी वर्ग के लिए
(पैंशनभोगी)
ॠण 70 वर्ष की आयु तक
समायोजित किया जाना चाहिए
ग) वेतनभोगी वर्ग के
अतिरिक्त
ॠण 70 वर्ष की आयु तक
समायोजित किया जाना चाहिए

निवल वेतन/आय

 किश्‍त की राशि और भुगतान अनुसूची इस प्रकार निर्धारित की जाएगी ताकि उधारकर्ता का निवल वेतन/आय, उसका / उसकी कुल परिलब्धियॉं/ कटौती अर्थात आवास ऋण की किश्‍त के बाद आय निम्‍नानुसार हो :


आय रु.10 लाख प्र.व.तक                                  -    40%
 
आय रु.10 लाख से अधिक रु.25 लाख प्र.व.तक        -    30%
 
आय रु.25लाख से अधिक प्र.व.                           -    20%
 
 

पूर्वभुगतान

कोई पूर्व भुगतान शुल्क नहीं

गारंटी

i) सहॠणी के मामले में :  तीसरी पार्टी की गारंटी में छूट

ii) अन्‍य सभी मामलों में : पति-पत्‍नी या बड़े बेटेकी गारंटी,यदि उपलब्‍ध हो।

iii)ऐसे मामले,जिनमें किस्त/निर्माण लिंक्ड योजना जैसे प्राधिकरण / सोसाइटी/बिल्डर फ्लैट/भूखंडजहां काफी अंतराल के बाद सेल डीड/पट्टा विलेख/हस्तांतरण विलेख पंजीकृत होता है: आमदनी वाले पति /पत्‍नी /बड़ा बेटा या उपयुक्त तीसरे पक्ष की गारंटी प्राप्‍त  की जानी चाहिए।