जमा योजनाऍं – बचत खाता

1.   सरल बचत योजना
   

भारतीय रिज़र्व बैंक के निर्देशानुसार वित्‍तीय समावेशन में विस्‍तार के लक्ष्‍य को प्राप्‍त करने हेतु बैंक ने “सरल बचत योजना” के नाम से नो फ्रि‍ल जमा खाता प्रारंभ किया है जिससे बैंकिंग सेवाऍं समाज के एक बहुत बड़े तबके तक पहुंच सकें, जो अब तक बैंकिंग सेवाओं से वंचित थे। इस खाते की मूलभूत विशेषताएं निम्‍न प्रकार से हैं:-

  1. इस प्रकार के खातों को किसी भी शाखा में खोला जा सकता है और बकाया शेष शून्‍य होने पर भी खाता परिचालित रहेगा
    ”सरल बचत खाता” रू.100/- की प्रारंभिक राशि के साथ खोला जा सकता हैं, उसके पश्‍चात खाते का शेष रू.100/- से कम हो कर शून्‍य होने पर भी खाता परिचालित रहेगा जब तक कि खाताधारी स्‍वयं खाते को बंद करने हेतु आवेदन नहीं करता।  इस संबंध में कोई भी प्रभार नहीं वसूल किया जाएगा।
  2. लक्षित ग्राहक
    क) भूमिहीन मजदूर/ ग्रामीण क्षेत्र के कारीगर /गृहणियां जि‍नकी नियमित आय नहीं है।
    ख)अनियत मजदूर/ उ़द्योग/निर्माण कार्य आदि में लगे दिहाड़ी मजदूर कम आय वाले दैनिक मजदूर।
    ग) ऐसे विद्यार्थी जिनकी आर्थिक स्थिति कमजोर हो, आय का कोई स्रोत न हो और जिनकी बचत के अवसर बहुत कम हो।
    घ) समाज का अन्‍य तबका जिनकी नियमित आय न हो एवं स्‍थाई निवास भी न हो।
    च)इन खातों में यदि बकाया शेष के.वाई.सी.  मानदण्‍डों को पूरा करता हो ,तो इसे सामान्‍य बचत खाते की श्रेणी में रखा जाएगा।
    छ) यह योजना गैर निवासी भारतीयों, ट्रस्‍टों एवं समितियों आदि हेतु नहीं है।
    ज) इन खातों को सामान्‍य बचत खातों हेतु उपलब्‍ध आवेदन पत्रों को भर कर खोला जा सकता है जिस पर स्‍वयं सत्‍यापित फोटो लगाना होता है।
  3. खाते का परिचय
   

एक सामान्‍य खाताधारी जिसका खाता के.वाई.सी. मानदण्‍डों को पूरा करता हो और खाता 6 माह पुराना हो और खाते का परिचालन संतोषजनक हो ,वह खाते में परिचय दे सकता है।  या
ग्राहक की पहचान एवं पते से संबंधित कोई साक्ष्‍य जिससे शाखा प्रबंधक संतुष्‍ट हो।

  4. परिचालन शर्ते
   

क) खाताधारी को चैकबुक जारी नहीं की जाएगी परंतु मांग पर लूज चैक जारी किया जाएगा। खाताधारी के निवेदन पर 3000/- तक के मैनेजर चैक,डिमांड ड्राफट एवं एम.टी. जारी किए जा सकते हैं बशर्ते कि शाखा प्रबंधक उस प्रकार के लेनदेन की वास्‍तविकता से संतुष्‍ट हो।  इन प्रपत्रों के जारी किए जाने पर सामान्‍य प्रचलित प्रभार वसूल किये जाएंगे।

    ख) आहरणों की अनुमत संख्‍या- एक माह में पांच एवं छमाही में कुल बीस आहरण।
    ग) प्रत्‍येक लेनदेन हेतु खाताधारी को व्‍यक्‍तिगत रूप से शाखा में आना होगा।
    घ) कोई व्‍यक्ति जो 15 वर्ष से अधिक एवं 18 वर्ष से कम आयु का है एवं पढ़ लिख सकता है वह केवल अपने नाम से अथवा किसी व्‍यक्ति /संरक्षक के साथ संयुक्‍त रूप से इस प्रकार का खाता खोल सकता है।  सामान्‍य बचत खातों पर लागू मार्गदर्शी सिद्वांत, इन खातों पर भी लागू होंगे।  सामान्‍य बचत खातों पर लागू प्रचलित ब्‍याज दर इन खातों पर भी लागू रहेगी, परंतु ब्‍याज का भुगतान कम से कम रू. 500/- के शेष होने पर ही किया जाएगा।
    च)यदि के.वाई.सी. मानदण्ड पूरे नहीं होते, तो इस प्रकार के खातों में जमाशेष रू. 50,000/- से अधिक अथवा एक वर्ष में कुल जमाऍं एक लाख रूपये से अधिक नहीं होने चाहिए।  यदि किसी समय उसके सभी खातों में जमाशेष रू. 50,000/- (पचास हजार) से अधिक हो जाता है या कुल क्रेडि‍ट रू. 100,000/-(एक लाख ) हो जाता है तो जब तक के.वाई.सी. मानदण्ड पूरे नहीं हो जाते तब तक खाते में अतिरिक्‍त लेन-देन की अनुमति नहीं होगी। 
    छ) इन खातों में चैकों की वूसली की स्‍वीकृति नहीं है। यदि खाताधारी चैक की वूसली अपने खाते में चाहता है तो उसे के.वाई.सी. मानदण्डों  को पूरा करना होगा।  इन खातों में सामान्‍यत: अंतरण एवं समाशोधन की प्रविष्टि की अनुमति नहीं है।
    अपवाद
    i) ) यदि शाखा प्रबंधक चैक की वसूली/ अंतरण लेनदेन प्रविष्टि से पूरी तरह से संतुष्‍ट है तो रू. 3000/- तक के लिखित की वसूली/ अंतरण  की अनुमति दी जा सकती है जो कि एक वर्ष में छह बार से अधिक न हो।
    ii) ) इस प्रकार के मामलों में लेनदेन की अनुमति देने से पूर्व शाखा प्रबंधक प्रमाणित करेगा कि वह इस लेनदेन की वास्‍तविकता से पूरी तरह संतुष्‍ट है।
2   बचत बैंक खाता
   

इस प्रकार का खाता किसी व्‍यक्ति (अकेले अथवा संयुक्‍त रूप से), संस्‍थाओं ,क्‍लबों, शैक्षिक संस्‍थाओं द्वारा खोला जा सकता है। खाते में कम से कम राशि

   
कम्‍प्‍यूटरीकृत शाखाएं                         

i) जहॉं चैक बुक जारी नहीं की गई है रू 500/-

ii) जहॉं चैक बुक जारी की गई है रू. 1000/-

 

गैर कम्‍प्‍यूटरीकृत शाखाएं                    i)जहॉं चैक बुक जारी नहीं की गई है रू 250/- 

ii) जहॉं चैक बुक जारी की गई है रू. 500/-

ग्रामीण शाखाएं  
i) जहॉं चैक बुक की सुविधा हो या नहीं रू 100/-
ग्रामीण शाखाऍं

चैक बुक सुविधा एवं बिना चैक बुक सुविधा खाते रू. 100/-

कितनी भी राशि जमा की जा सकती है। ब्‍याज दर/ ब्‍याज के भुगतान हेतु पात्रता ब्‍याज दर 4.0 अथवा भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा समय समय पर निर्धारित दर 1 अप्रैल 2010 से दैनिक उत्पाद आधार पर छमाही बाकी पर देय
   

कितनी भी राशि जमा करवाई जा सकती है।

ब्याज दर/ ब्याज के भुगतान हेतु पात्रता

ब्याज दर         भुगतान अनुसूची

ब्याज दर 4.0 % अथवा भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा समय समय पर निर्धारित दर। 1 अप्रैल 2010 से दैनिक उत्पाद आधार पर छमाही बाकी पर।